Followers

Total Pageviews

Wednesday, April 16, 2014

नींद ......

जाने क्यूँ मेरी रातें सुलग जाती हैं ,
ना तुम आते हो ,ना नींद ही  आती है। [नीलम]